Affiliate Marketing In India

  • Post last modified:September 22, 2020
  • Reading time:2 mins read

 Affiliate Marketing In India: नमस्कार , क्या आप Affiliate Marketing के बारे में सोच रहे है ? क्या आप इंडिया में Affiliate Marketing Program ढूंढ रहे है ? क्या आप Affiliate Marketing से पैसे कमाना चाहते है ? इंडिया में Affiliate Marketing का भविष्य क्या है ? क्या भारत में Affiliate Marketing करना सही होगा ? क्या में Affiliate Marketing से पैसे कमा पाउँगा ? दोस्तों इन मै से कई सवाल आपके दिमाग में पहले से ही होंगे , तो आइये इनके बारे में जानते है | 

Affiliate Marketing In India

Affiliate Marketing kya hai

दोस्तों Affiliate Marketing मार्केटिंग का ही एक तरीका है | कोई भी व्यक्ति किसी भी कंपनी के Affiliate Program में जुड़कर उस कंपनी की प्रोडक्ट को अलग – अलग प्लेटफार्म पर प्रमोट करके कुछ कमीशन कमाती है उसे Affiliate Marketing  कहा जाता है | Affiliate Marketing  करने वालो को Affiliate कहा जाता है |

Affiliate Marketing में कोई भी व्यक्ति अपने किसी भी Source , जैसे Blog और Website , Facefook , Instagram , Youtube , Telegram और दूसरे Social Media Platforms के द्वारा किसी भी कंपनी या Organization के प्रोडक्ट्स को प्रमोट करता है या Recommend करता है | इसके बदले में कंपनी या Organization उस व्यक्ति को कुछ Commission देती है | अपने Youtube Videos में Youtubers को किसी प्रोडक्ट या किसी भी कोर्स को प्रमोट करते हुए देखा ही होगा | 

दोस्तों यहाँ पर अलग – अलग प्रोडक्ट्स के हिसाब से अलग – अलग कमीशन मिलता है | यह कमीशन आप किस प्रकार की प्रोडक्ट प्रमोट करते हो उस पर Depend करता है | आगे मेंने इनके बारे में भी बताया  की किस प्रकार की प्रोडक्ट प्रमोट करने से ज्यादा कमीशन मिलता है | 

Affiliate Marketing कैसे काम करता है ?

दोस्तों कोई कंपनी मार्केट में अपना नया प्रोडक्ट ला रही है और कंपनी चाहती है की उसकी प्रोडक्ट मार्केट में ज्यादा बीके , तो इसलिए कंपनी अपनी प्रोडक्ट प्रमोट करवाने के लिए अपना एक Affiliate Program Offer करती है | अब कोई व्यक्ति चाहता है की में किसी कंपनी की प्रोडक्ट को प्रमोट करके पैसे कमाना चाहता हु तो यह व्यक्ति Affiliate Program ज्वाइन करेगा और Affiliate बनकर उस कंपनी की प्रोडक्टस को प्रमोट करके Commission कमाएगा | 

 Affiliate Marketing में ज्यादातर ब्लॉग और वेबसाइट के Owner ज्वाइन करते है | इसलिए कंपनी या Organization उसे अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर उनके प्रोडक्ट्स प्रमोट करने के लिए बैनर और लिंक इत्यादि प्रोवाइड करती है | अब  ब्लॉग या वेबसाइट के मालिक उस कंपनी के बैनर या लिंक को अपने ब्लॉग या वेबसाइट में अलग – अलग जगह पर लगता है | मान लीजिये उस ब्लॉग या वेबसाइट पर बहुत visitors आते है और उन visitors में से कुछ visitors उस बैनर या लिंक पर क्लिक करके कंपनी के सेल्स पेज पर पहुँच जायेगा और वहासे प्रोडक्ट को खरीदता है या किसी सर्विस के लिए Sign Up करता है तो उसके बदले में कंपनी या Organization उस ब्लॉग या वेबसाइट के Owner को Commission देती है | 

एफिलिएट मार्केटिंग से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण जानकारी 

Affiliate Marketing में कुछ ऐसे Terms and Conditions का भी इस्तेमाल होता है तो इनके विषय में एक Affiliate Marketer के रूप में जानना बहुत जरुरी है | 

Affiliate : 

एक व्यक्ति किसी भी कंपनी की प्रोडक्ट को प्रमोट करके पैसे कमाना चाहता है , तो वह व्यक्ति कुछ Affiliate Program Offer करने वाली कंपनीओ  के बारे में जानकारी लेगा और वह किसी एक कंपनी की Affiliate Program में ज्वाइन होकर उस कंपनी के Products को अपने Sources जैसे की ब्लॉग और वेबसाइट पर प्रमोट करता है , और कमीशन लेता है उसे Affiliate कहते है | 

आपके पास ब्लॉग और वेबसाइट नहीं है,  तो  भी आप Facebook , Instagram , Tealegram , Youtube जैसे प्लेटफार्म पर प्रमोट कर सकते है | 

Affiliate Marketplace :

 Affiliate Marketing के लिए बहोत सारे Platform है | कुछ ऐसी कंपनियां या जो अलग – अलग विषयो में Affiliate Program Offer करती है , उन्हें Affiliate Marketplace कहते है | इंडिया में Affiliate Marketing करने के लिए Amazon सबसे अच्छा Marketplace है | इसके अलावा Clickbank , Digistore जैसे ग्लोबल Marketplace है | 

Affiliate ID : 

कोई व्तक्ति किसी भी कंपनी के Affiliate Program में ज्वाइन होता है तब उस व्यक्ति को कंपनी की तरफ से एक Unique ID प्रोवाइड की जाती है , जो Sales में जानकारिया जुटाने में मदद करती है | उस Affiliate ID से आप उस कंपनी के Affiliate Account में Login कर सकते है | 

Affiliate Link : 

Affiliate  कंपनी की कोई  प्रोडक्ट प्रमोट करना चाहता है तो कंपनी उस प्रोडक्ट की एक Promotion Link प्रोवाइड की जाती है , उसे Affiliate Link कहते है | अगर कोई विजिटर उस लिंक पर क्लिक करता है तो उस कंपनी की वेबसाइट पर पहुँच जाता है , और वहा से प्रोडक्ट खरीदते है | Affiliate Link से ही Affiliate Program वाले सेल्स को Track करते है | 

Commission :

 कोई विजिटर Affiliate Link से  प्रोडक्ट खरीदता है और Affiliate को कंपनी कुछ Amount देती है , उसे Commission कहते है | यह Amount प्रत्येक Sale के हिसाब से प्रदान किया जाता है | यह Amount सेल का कुछ Persent हो सकते है या पहले से निश्चित कोई Amount जैसे की Terms and Condition में पहले से Mentioned हो | 

Link  Clocking :

 ज्यादातर Affiliate Links बहुत लंबे और दिखने में अजीब से लगते है , इस लिए एसे link को  URL Shortner का इस्तेमाल करके छोटा बनाया जाता है , उसे Link Clocking कहते है | Link Shortner के लिए Bit.ly एक बहुत अच्छी वेबसाइट है जहा से आप Link को Short कर सकते है और Track भी कर सकते है | 

Affiliate मैनेजर : 

कुछ ऐसी कंपनिया है जो अपने Affiliate Programs में Affiliates की मदद के लिए और उन्हें सही मार्गदर्शन के लिए कुछ व्यक्ति नियुक्त किए जाते है , उसे Affiliate मैनेजर कहते है | 

Payment Mode :

 आप अपना Commssion जिस payment Method के द्वारा अपने Account में लेते हो , उसे  Payment Mod कहते है | इसका मतलब यह है की वह माध्यम जिसके द्वारा आपको आपकी Commission दी जाएगी | अलग – अलग Affiliate Marketing कंपनिया अलग – अलग Modes Offer करते है , जैसे की Cheque , Wire Transfer , Paypal इत्यादि

Payment Threshold :

 Affiliate तब अपना Commission अपने अकाउंट में ट्रांसफर कर सकता है जब वोह कुछ Minimum Amount कर ले | Minimum राशि (Amount) हो जाने के बाद आपकी Payment की जाती है | अलग – अलग Programs की  Payment Threshold राशि भी अलग अलग होती है | 

Affiliate Marketing से पैसे कैसे कमाए 

Social Media के आगे बढ़ने के साथ – साथ ऑनलाइन कमाई करने वालो की संख्या में भी तेजी से बढ़ाव आ गया है | खासकर ऑनलाइन पैसे कमाने वाले लोग  Youtube और Blogging से ही पैसे कमा रहे है और कॉम्पिटिशन भी बहुत बढ़ शुकि लेकिन बहुत सारे नए लोग इस फील्ड में अपने Quality कंटेंट और हार्ड वर्क से सफल हो जाते है  और आप भी बन सकते है | आज के समय में Affiliate Marketing में बहुत सारे Bloggers जुड़े हुए है और अच्छी कमाई भी कर रहे है | 

Affiliate Marketing में ब्लॉग से पैसे कमाना बहुत आसान है | लेकिन दोस्तों में यहां आपको एक बात बताना चाहूंगा आप ऑनलाइन पैसे कमाना चाहते हो ब्लॉगिंग के जरिये और आप ब्लॉग्गिंग के बारे में कुछ नहीं जानते तो पहले आपको Learning पर ध्यान देना होगा , इसके बाद ब्लॉग बनाकर Quality Content लिखने होंगे | शुरुआती महीनो में आपको अपने कंटेंट को अच्छे करने के लिए और  ब्लॉग पर ट्रैफिक लाने के लिए मेहनत करनी होगी , इसके लिए 8 – 9 महीने लग सकते है | इसके बाद आपके ब्लॉग पर अच्छा ट्रैफिक आने लगेगा फिर आप Affiliate Marketing या Google Adsense के द्वारा कमा पाएंगे | आपको पहले पैसे के पीछे नहीं भागना है  बस आपको सही दिशा में मेहनत करनी है | 

Affiliate Marketing से कमाने के लिए हमे कोई भी Affiliate Program में Register करना होगा |  Register करने के बाद उनके द्वारा दिए गए ads और Products के लिंक को ब्लॉग पर Add करना होगा | कोई भी विजिटर उस  लिंक पर क्लिक करके प्रोडक्ट खरीदता है तो उसका कमीशन मिलता है | 

Affiliate Marketing Payment Method

यह अलग-अलग Affiliate Program पर आधारित है की वोह Affiliates को Payment देने के लिए कौनसे Modes का Support करते है | ज्यादातर Affiliate Program Payment के लिए Bank Transfer और Paypal का इस्तेमाल करते है | 

Affiliate Program में कुछ Terms उपयोग किए होते है जिसके आधार पर Affiliate को Commission दिया जाता है | 

CPM(Cost Per 1000 Impressions) 

यह एक Amount है जो कंपनी द्वारा Affiliate को ब्लॉग के पेज पर लगाए हुए प्रोडक्ट के Ad पर 1000 Views हुए है तो कंपनी Affiliate को उन Views के आधार पर Commission देती है | 

CPS(Cost Per Sale) 

 यह Amount Affiliate को तब मिलता है जब ब्लॉग पर आये विसिटोर्स प्रोडक्ट को खरीदता है | जितने लोग उस प्रोडक्ट को खरीदेंगे उसके आधार पर Affiiate को कमीशन मिलता है | 

CPC(Cost Per Click) 

ब्लॉग पर आये हुए विसिटोर्स Ads , Text ,Banner पर क्लिक क्लिक करते है तो हर क्लिक पर Affiliate को कमीशन मिलता है | 

 Affiliate Marketing Feature in India 

दोस्तों अगर हम Affiliate Marketing  के Feature की बात करे तो भारत में Jio आने के बात बहुत अच्छा हो गया है | अभी भारत में सभी जगह पर इंटरनेट नहीं पहुंचा धीरे – धीरे गावो और कस्बो तक पहुँच रहा है लेकिन अभी तक पहाड़ी इलाको में नहीं पहुंचा है | भारत में मोबाइल यूज़र्स की संख्या में भी काफी बढ़ावा हुआ है और लोगो को इंटरनेट की तरफ का आकर्षण और लगाव देखते हुए कहे तो Affiliate Marketing का भविष्य अच्छा है | एक समय था तब Affiliate Marketing बड़े -बड़े विकसित देशो तक सिमित था लेकिन अब सभी देशो में फैल गया है | 

निष्कर्ष :

यहाँ तक पढ़ने के लिए आपका दिल से धन्यवाद् | मुझे उम्मीद है की यह आर्टिकल पढ़ने के बाद आपको Affiliate Marketing के बारे में सभी जानकारी मिल गई होगी और कोई जानकारी छूट गई है तो निचे कमेंट में बताइये आपको जरूर रिप्लाई मिलेगा  और आप कोई सुझाव देना चाहते है तो जरूर दे सकते है  | ऐसी ही जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग पर विजिट करते रहिये और हमे Social Media पर भी Follow कर सकते है | 

Leave a Reply