You are currently viewing Network marketing kya hai – नेटवर्क मार्केटिंग क्या है?
Network marketing kya hai

Network marketing kya hai – नेटवर्क मार्केटिंग क्या है?

  • Post last modified:June 2, 2021
  • Reading time:1 mins read
Network marketing kya hai – आप नेटवर्क मार्केटिंग  में ज्वाइन होना चाहते है तो एक बार यह जानना बहुत जरुरी है कि आखिर नेटवर्क मार्केटिंग क्या है? नेटवर्क मार्केटिंग का इतिहास क्या है? नेटवर्क मार्केटिंग का फायदा क्या है? इस आर्टिकल में मेने इन सब के बारे में पूरी डिटेल्स में जानकारी दी है।
Network marketing kya hai
Network marketing kya hai
नेटवर्क मार्केटिंग की ऐसी जानकारी के लिए नोटिफिकेशन को Allow कर दीजिये ताकि नेटवर्क मार्केटिंग की लेटेस्ट जानकारी जल्दी से आपको।

नेटवर्क मार्केटिंग क्या है? – Network marketing kya hai

नेटवर्क मार्केटिंग एक तरह की मार्केटिंग है।  नेटवर्क मार्केटिंग मे आप ज्वाइन होकर आपने नीचे लोगो को जुड़कर एक बड़ी टीम बना होता है जिसे हम नेटवर्क मार्केटिंग कहते है।

कई लोगो को यह फर्जी लगता है लेकिन नेटवर्क मार्केटिंग में कई सारी कंपनिया है जो आपको नेटवर्क मार्केटिंग के जरिये पैसे कमाने का मौका देती है।  नेटवर्क मार्केटिंग में जुड़ने से पहले आप नेटवर्क मार्केटिंग कंपनीयो के बारे अच्छी तरह से जानकारी लेनी होगी।

नेटवर्क मार्केटिंग या MLM एक सोचा समझा बिज़नेस प्लान या माध्यम होता है जिसकी मदद से सभी नेटवर्क मार्केटिंग कंपनीयाँ अपने उत्पादों (Products) को बेचते हैं। अगर हम देखें तो नेटवर्क मार्केटिंग एक बहुत ही अच्छा बिजनेस या उद्योग है।

परंतु कुछ झूठे और धोखेबाज नेटवर्क मार्केटिंग कंपनियों के कारण नेटवर्क मार्केटिंग का नाम बदनाम हो गया है। कुछ MLM कंपनियां लोगों के पैसे लूटकर घोटाला कर देती है जिसके कारण सभी नेटवर्क मार्केटिंग कंपनियों का नाम बदनाम हो जाता है।

नेटवर्क मार्केटिंग में व्यक्ति सीधे कंपनी से जुड़ कर सामान (उत्पाद) को उपभोक्ता तक पहुँचाते हैं। नेटवर्क मार्केटिंग के व्यापार में इतनी शक्ति है की इसके माध्यम से हजारों-लाखों लोग जल्द से जल्द करोड़पति बन सकते हैं।

भारत में कई सारी कंपनीया है जिनके ढेर सारे प्रोडक्ट है। इन प्रोडक्ट को बेचने के लिए कुछ कंपनीया प्रचार-प्रसार का सहर लेती है तो कुछ कंपनीया इन्हे सीधे लोगो के जरिये बिकवाती है। जो प्रोडक्ट बिना किसी प्रचार-प्रसार के लोगो के जरिये बेचा जाता है, उसी को नेटवर्क मार्केटिंग कहते है।

नेटवर्क मार्केटिंग में ऐसा नहीं की हर बार प्रोडक्ट बेचना है या कंपनी के लिए किसी सेल्समेन की भूमिका निभानी है। नेटवर्क मार्केटिंग आप एक बिज़नेस की तरह करते है।

इसमें आपको कंपनी कुछ प्रोडक्ट देती है जिसे आपको दूसरे वयक्ति को नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस का प्लान बताना होता है और उसे कंपनी के प्रोडक्ट खरीदने का आग्रह करना है। जब वह व्यक्ति कंपनी के बिज़नेस प्लान ज्वाइन करता है और प्रोडक्ट को  खरीदता है तो आपको उस पर कुछ तय कमीशन मिलता है।

ठीक उसी तरह आपने जिस व्यक्ति को जोड़ा वह भी दूसरे व्यक्ति को नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस ज्वाइन करवाएगा और प्रोडक्ट को  बेचेगा। उसी तरह कुछ लेवल तक आपकी एक बड़ी नेटवर्क मार्केटिंग  की टीम बन जाएगी। जितना बड़ा आपका नेटवर्क होगा उतना ज्यादा पैसा आप कमा सकते है।

नेटवर्क मार्केटिंग का इतिहास – Network marketing kya hai –

डायरेक्ट सेलिंग का ये सफर सन 1886 में शुरू हुआ था AVON नाम की एक कंपनी से और इस कंपनी को शुरु करने वाली महिला का नाम था MRS. PFE ALBEE. इन्होने आपके करियर की सुरुवात घर, घर जाकर परफ्यूम बेच कर की थी।  इससे उन्हें अच्छा खाशा मुनाफा भी हुआ था।
उसके बाद 1991 यूनाइटेड स्टेट ने the first direct selling association fund लागु कर दिया था। जिसे बाद में the agent credit association बोला गया। फिर इमरजेंसी का ऐसा दौर आया की 1930 में लोगो को घरो पर जाकर अपने प्रोडक्ट के बारे में बताने लगे और इस तरीके को part plan method के नाम से जाना गया।
सन 1951 में Tupperware नाम की कंपनी की शुरुवात हुई।  जो आज भी मार्किट में अपनी अच्छी पहचान बनाये हुए हे। Tupperware में सबसे पहले Retail and Party Plan Method द्द्वारा अपना बिज़नेस शुरू किया और इन्होने शुरुवाती दौर में ही बहुत कामयाबी मिली। और फिर Mary KAY ASH जिन्होंने अपनी पूरी ज़िंदगी सेविंग्स डायरेक्ट सेलिंग बिज़नेस में लगा दी और उन्हें बाद में अपार सफलता भी मिली।
सन 1991 में दुनिया के अंडर इंटरनेट आ चूका था इंटरनेट आने के बाद आप सब जानते ही की कैसे दुनिया एक दूसरे से जुड़ चुकी थी।  सन 1995 और 1996 में भारत में डायरेक्ट सेलिंग कंपनी अपनी एंट्री कर चुकी थी सबके पहले भारत के स्वीडन की एक कंपनी आयी उसी कंपनी के तरीके को फॉलो करके कुछ इंडियन डायरेक्ट सेलिंग कम्पनीज ने अपनी शुरुवात की।
उसके बाद डायरेक्ट सेलिंग कंपनी को बहुत बुरा दौर देखना पड़ा क्युकी उस समय बहुत धोका धड़ी के काम किये जाने लगे थे जिसे GRAY MARKETING भी कहते है और भी भारत में IDSA यानि INDIA DIRECT SELLING ASSOCIATION का निर्माण हुआ IDSA का काम था की मार्किट में जो भी धोका धड़ी से डायरेक्ट सेलिंग कम्पनीज को चला रहा है उन पर ताला लगाया जाये।
और इस दौरान 2003 से 2015 तक IDSA ने सरकार से जुगरीश की डायरेक्ट सेलिंग को लेके एक Regulatory Body तैयार की जाये ताकि जो लोग डायरेक्ट सेलिंग का बिज़नेस करना चाहते हे वो क़ानूनी तोर पर इस बिज़नेस को कर सके।

सन 2015 में सरकार ने ये बताया की डायरेक्ट सेलिंग इंडस्ट्री ने अब तक 45 billion INR का बिज़नेस कर लिया हे और 2025 के आते आते ये इडस्ट्री 645 billion INR का बिज़नेस करेगी। 9 सितम्बर 2016 को सरकार ने डायरेक्ट सेलिंग को लेके नियम लागू कर दिए थे इन नियमो के तहत जो भी कम्पनिया गलत तरीके से उन्हें बंद किया जाये और जो कम्पनिया इन नियमो को मानती ही उन्हें और बढ़ावा दिया जाये।  आज के समय में जो भी कंपनी डायरेक्ट सेलिंग कर रही हे उसके पास सरे सरकारी दतावेज और प्रमाण पत्र हैं।

Read also

भारत में नेटवर्क मार्केटिंग – Network marketing kya hai –

भारत में नेटवर्क मार्केटिंग की शुरुआत 1995 में हुई। और आज नेटवर्क मार्केटिंग इंडिया में बहुत तेजी से बढ़ रही इंडस्ट्री है। भारत सरकार ने तेजी से बढ़ रहे इस इंडस्ट्री को अपनाकर 12 सितंबर 2016 को गाइडलाइंस जारी कर दी।
जिससे भारत में नेटवर्क मार्केटिंग और तेजी के साथ बढ़ी है, इसका और तेजी से बढ़ने का अनुमान है। भारत सरकार की संस्था FICCI और KPMG के रिपोर्ट के अनुसार 2025 में डायरेक्ट सेलिंग(Direct Selling) भारत में 625 बिलियन (62500 cr.) की इंडस्ट्री बन जाएगी।

नेटवर्क मार्केटिंग के फायदे – Network marketing kya hai

नेटवर्क मार्केटिंग क्या है

समय प्रबंधन

दुनिया की सबसे महत्वपूर्ण और कीमती चीज समय है। नेटवर्क मार्केटिंग में पूरे दिन को प्लान करना सिखाया जाता है, यहां हम समय का सदुपयोग करना सीखते हैं। जो टाइम बेकार की चीजों (जैसे – टीवी, मोबाइल फोन, गप-सप) में दिया करते थे,  उसी टाइम का सदुपयोग करना सीखते हैं।

यहां हमें अपनी आदतें बदलनी पड़ती है, जिससे हमारे जीवन में सकारात्मक परिवर्तन आते हैं, क्योंकि एक महान वैज्ञानिक एपीजे अब्दुल कलाम का कहना है की हम अपने भविष्य को नहीं बदल सकते लेकिन हम अपने आदतों को बदल सकते हैं, और वह बदली हुई आदते हमारा भविष्य बदल देंगी। अर्थात हमारी आदते ही हमारा भविष्य बनाती हैं।

सकारात्मक सोच

नेटवर्क मार्केटिंग में आने पर हमारा नजरिया परिवर्तित हो जाता है। हम किसी भी चीज को एक अलग नजरिए से देखना शुरू करते हैं, ये सब अच्छी संगत के कारण होता है।

अतिरिक्त आमदनी

शायद दुनिया में सभी को एक Extra Income पसंद होती है, और नेटवर्क मार्केटिंग Extra Income कमाने का सबसे बेहतरीन तरीका है। यहां पर व्यक्ति मन चाही इनकम कर सकता है।

व्यक्तित्व विकास

नेटवर्क मार्केटिंग में वह सब कुछ सीखने को मिलता है, जो बाहर या किसी कॉलेज में नहीं सिखाई जाती। यहां पर हम टीम बनाते हैं जिससे हमारे अंदर लीडरशिप स्किल आती है। हम यहां पर टाइम मल्टिप्लाई करना सीखते हैं। यहां पर जितनी इफेक्टिव तरीके से पब्लिक स्पीकिंग (Public Speaking) सिखाई जाती है, वह पब्लिक स्पीकिंग आप बाहर लाखों रुपए देकर भी नहीं सीख सकते।

Communication Skills – Network marketing kya hai

नेटवर्क मार्केटिंग में आप अपने विचार को प्रभावपूर्ण तरीक से किसी व्यक्ति के समक्ष रखना, और उसे अपने बातचीत के द्वारा प्रभावित करना सीखते हैं। जो व्यक्ति को पूरे जीवन काम आता है।

लोक व्यवहार

नेटवर्क मार्केटिंग में एक ऐसी स्किल भी सीखने को मिलती है, जो व्यक्ति को जीवन भर काम आता है क्योंकि नेटवर्क मार्केटिंग लोगों का बिजनेस है। यहां आप लोगों के साथ काम करते हैं, जिससे सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि आप एक व्यवहारिक व्यक्ति बन जाते हैं, लोग आपसे मिलना चाहते हैं, आपसे बातें करना चाहते हैं, और आप उनके प्रिय मित्र बन जाते हैं।

निष्क्रिय आय

सामान्यत: आए दो प्रकार की होती है- सक्रिय आय (Active income) और निष्क्रिय आय । सक्रिय आए में जब तक व्यक्ति काम करता है तब तक पैसे आते हैं, जब वह काम नहीं करता है तो पैसे नहीं आते हैं। लेकिन निष्क्रिय आय में व्यक्ति काम करें या ना करें पैसे आते हैं। और नेटवर्क मार्केटिंग में एक बार टीम बन जाने पर Passive income आनी शुरू हो जाती है, चाहे आप काम करें या ना करें आपकी टीम काम करती है, आपके लिए। वास्तव में टीम अपने लिए काम करती है, लेकिन इनडायरेक्टली आपके लिए भी काम होता है।

दूसरों की मदद

जब कोई नया व्यक्ति इस बिजनेस में आता है, तो पूरी टीम आगे बढ़ने में उसकी मदद करती है। जबकि बाहरी दुनिया में लोग एक दूसरे की टांग खींचने में लगे हैं। नेटवर्क मार्केटिंग में लोग एक दूसरे की सफलता के लिए काम करते हैं।

आर्थिक आजादी

इस बिजनेस के जरिए कोई भी व्यक्ति 4 से 5 सालों में मेहनत और लगन से काम करके आर्थिक स्वतंत्रता प्राप्त कर सकता है, यहां आप मनचाहे पैसे बना सकते हैं। यह आप पर डिपेंड करता है, कि आप कितना कमाना चाहते हैं।

समय की आजादी

नेटवर्क मार्केटिंग एक ऐसा व्यापार है, जो हमें समय की आजादी देता है, इस बिजनेस में आप कहीं घूमने जाते हैं, या कुछ समय काम नहीं करते हैं फिर भी आपकी कमाई होती रहती है।

मान-सम्मान

नेटवर्क मार्केटिंग में मान सम्मान तो इतना मिलता है, जितना बड़े-बड़े नेता और अभिनेता को भी नहीं मिलता। यहां सफल होने पर आप जहां जाते हैं, आपका स्वागत किया जाता है। ढेर सारे लोग लाइन में लगे होते हैं, आपके साथ एक फोटो क्लिक करने के लिए,  ऑटोग्राफ लेने के लिए। यहां लोग आपको देखकर Inspire (प्रेरित) होते हैं, और आपकी तरह बनना चाहते हैं।

अच्छे लोगों से दोस्ती

चुकि नेटवर्क मार्केटिंग लोगो का बिजनेस है, इसलिए यहां पर आप हर रोज नये लोगों से मिलते हैं। और ऐसे लोगों से आपकी दोस्ती होती है, जिसे आप नहीं जानते थे जिनका एक सक्सेज माइंडसेट है वह जिंदगी में आगे बढ़ना चाहते हैं। यहां पर आपको एक ऐसा कल्चर मिलता है, जहां सभी लोग आगे बढ़ने की सोचते हैं। लोग एक दूसरों को उनके Gole Achieve  करने के लिए Inspire (प्रेरित) करते हैं।

प्रस्तुति की कला

नेटवर्क मार्केटिंग में लोग चीजों को अच्छी तरीके से प्रजेंट करना सीखते हैं। जिसमें बोर्ड प्रेजेंटेशन, लैपटॉप प्रेजेंटेशन, पेपर प्रेजेंटेशन आदि शामिल है। यहां आप एक प्रोफेशनल की तरीके से चीजों को प्रजेंट करना सीख जाते हैं। प्रेजेंटेशन कैसे देना चाहिए।

नेटवर्क मार्केटिंग में लाभ – Network marketing kya hai

जोखिम मुक्त व्यापार

 इस बिजनेस में कोई रिस्क नहीं होता है, क्योंकि यह लाखों-करोड़ों में शुरू नहीं होता। बल्कि बहुत कम पैसे में शुरु हो जाता है, इसलिए इस बिज़नेस में किसी प्रकार की हानि का कोई डर नहीं होता।

कोई समय सीमा नहीं

किसी भी व्यापार की एक समय सीमा होती है कि वह इतने से इतने समय तक चल सकता है। लेकिन नेटवर्क मार्केटिंग बिजनेस को किसी भी समय किया जा सकता है, चाहे वह रात के दो ही क्यों न बज रहे हो।

बिजनेस के लिए असीमित क्षेत्र – Network marketing kya hai

इस बिजनेस को खुले बाजार में कहीं भी किया जा सकता है, यदि आप कहीं घूमने गए हैं तो वहां भी यह बिजनेस कर सकते हैं। लेकिन ऐसा किसी अन्य व्यापार में नहीं होता कि आप अपनी दुकान लेकर कहीं भी जा सकते हैं। नेटवर्क मार्केटिंग में आप चलते – फिरते दुकान होते हैं। जहां आप हैं वहां आपका बिजनेस है।

उम्र की आजादी

इस बिजनेस में आपकी उम्र चाहे जो भी हो आप इस बिजनेस को शुरू कर सकते हैं। चाहे आप 25 साल के हो या 75 साल के।

नेटवर्क मार्केटिंग की नकारात्मक छवि- Network marketing kya hai –

नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस को नकारात्मक तरीके से देखे जाने के दो मुख्य कारण – लोग नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी से क्यों जुड़ना नहीं चाहते हैं?
  1. कई कंपनियां आती हैं अपने बाइनरी प्लान(चैन सिस्टम प्लान) लोगों को दिखा कर उन्हें लुभाती है और रातों-रात उनके पैसे लेकर भाग जाती है।
  2. दूसरे वह लोग जिन्हें नेटवर्क मार्केटिंग कंपनियों मैं असफलता मिली होती है वह नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी से अलग होने के बाद ऐसे कंपनियों के विषय में नकारात्मक बातें करते हैं और निंदा भी क्योंकि वह सफल नहीं हो पाए, इसलिए वो चाहते हैं की आप भी सफल ना हो पायें।

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है कि ” नेटवर्क मार्केटिंग क्या है? “ पोस्ट आपके लिए फायदेमंद है और आपने अपना निर्णय लेने में मदद करेगा। हमारे लेख से संबंधित कोई भी प्रश्न है तो निचे कमेंट में बताएं और हमे कोई सुझाव देना चाहते हैं तो आप दे सकते हैं।
Network Marketing, MLM Business, Affiiate Marketing, Internet, Technology, Make Money, Blogging और Programming से Realated जानकारी के लिए आप हमारे ब्लॉग के साथ जुड़ सकते हैं और ऐसी जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग पर विजिट करें। आप हमे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर भी अनुसरण कर सकते हैं।

This Post Has 2 Comments

  1. Brock

    This article will help the internet users for creating new blog or
    even a weblog from start to end.

Leave a Reply