CDPO क्या है? | Full form of C.D.P.O | फीस, सैलरी व खाली पदों की जानकारी

  • Post last modified:June 2, 2021
  • Reading time:1 mins read
Full form of C.D.P.O, cdpo full form, cdpo full form hindi, cdpo full form salary, cdpo full form in anganwadi
 
Full form of C.D.P.O

इस पोस्ट में आपको CDPO के बारे में जानकारी देंगे। जिसमें देखेंगे, कि CDPO क्या है?(Full for of C.D.P.O) और CDPO की SALARY कितनी होती है? CDPO के आवेदन और उसकी फीस कितनी है?

What does CDPO mean?

Child Development Project Officer (CDPO) is the key functionary of the scheme of Integrated Child Development Services (ICDS). CDPO is responsible for the organisation and administration of services and implementation of this scheme at the field level.

ICDS is a Government of India sponsored programme and is a primary social welfare scheme to tackle malnutrition and health problems in children below 6 years of age and their mothers in India.

CDPO क्या है?

CDPO की फुलफॉर्म “Child Development Project Officer” है। CDPO एक सरकारी (Govt.) जॉब है, जो भारत मे 6 साल से छोटे बच्चो के विकास और गर्भवती महिलाओं को सुविधा मुहैया कराने के लिए सभी राज्यो में अधिकारी की नौकरी है।

CDPO एक ऐसी GOVT जॉब है, जहाँ पर आप कोई भी Undergraduate डिग्री पूरी करने के बाद Apply कर सकते है। CDPO Officer का काम देश में कम उम्र के बच्चो और गर्भवती महिलाओं का शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य एक अच्छे स्तर पर ले जाना है और देश मे बच्चो का अच्छा स्वास्थ्य सुनिश्चत करना है।

अगर आप अपनी नौकरी के साथ देश के हित के लिए काम करना चाहते है, तो CDPO एक ऐसी नोकरी है, जहाँ से आप देश की आंतरिक और देश का भविष्य बनाने के लिए अपना योगदान भी दे सकते है।

CDPO के पद (Vacancy) की जानकारी

  • हर साल भारत मे प्रत्येक राज्य में 30-50 CDPO के पदों पर भर्ती होती है। इनमे से अनुमानित पद 20% ST/SC, 30% OBC और 50% निष्कपट के लिए है।
  • CDPO पद के लिए आवेदनकर्ता की उम्र 21 से 37 साल तक होना अनिवार्य है। इसमें भी ST/SC, OBC और विकलांग को कुछ सालों की छूट है।
  • आवेदनकर्ता की Undergraduate डिग्री का माननीय यूनिवर्सिटी से होना अनिवार्य है और कोई भी विद्यार्थी (वाणिज्य, कला और विज्ञान विषय से) आवेदन कर सकता है।
  • CDPO के पद की भर्ती के लिये हर साल अनुमानित  सितंबर के पहले सप्ताह से अक्टूबर के पहले सप्ताह तक आवेदन भरे जाते है।
  • CDPO की परीक्षाएं दो भागों में ली जाती है, पहले भाग में सामान्य ज्ञान से संबंधित प्रश्न पूछे जाते है और दूसरे भाग में अन्य विषयों से संबंधित प्रश्न पूछे जाते है ।

 CDPO की सैलरी कितनी होती है

CDPO एक GOVT पोस्ट है और CDPO की सैलरी भी बहुत अच्छी होती है और कुछ साल के बाद सैलरी में कुछ प्रतिशत इजाफा होता रहता है। CDPO में कुछ उच्च श्रेणी के पद भी होते है और CDPO अफसर की हर महीने की आय 10000 से 40000 रुपए के बीच हो सकती है।

यह सैलरी राज्य सरकार और पद विशिष्टता पर निर्भर करती है, इसलिए इसमें बदलाव हो सकता है।

CDPO की आवेदन फ़ीस कितनी है?

CDPO के आवेदन के समय रजिस्ट्रेशन फीस देनी होती है। जनरल और OBC वालो के लिए आवेदन शुल्क 660 रुपए है और ST-SC के लिए यह 260 रुपए तक है। परंतु, यह फीस साल और राज्य के अनुसार बदलती रहती है।

भारत में CDPO कर्मचारियों का लक्ष्य

जैसा कि हमने आपको बताया, कि CDPO अधिकारी को बच्चो और महिलाओं के स्वास्थ्य स्तर को सुधारने के लिए गठन किया गया है। तो CDPO अधिकारी के कुछ उद्देश्य होते है, जो आपको जानने चाहिए।

  • देश मे गर्भवती महिलाओं और शिशुओ की अच्छी देखभाल करने के लिये योजनाये बनाना, गर्भवती महिलाओं और शिशुओ को हेल्थी व पोषक तत्व उपलब्ध करवाना है।
  • नए जन्मे शिशुओ से लेकर 6 साल तक के बच्चो की अच्छी देखभाल और उनकी शारीरिक और मानसिक देखभाल करना।
  • CDPO देश में शिशु म्रत्यु दर को कम करने में मदद करते है और देश में बच्चो को होने वाले रोगों से बचाव और ग्रमीण क्षेत्रो के बच्चो को कुपोषण का शिकार होने से बचाते है ।

जैसा कि हमने आपको इस पोस्ट में आपको CDPO, सैलरी और उसके पदों के बारे में बताया है। अगर आपका कोई भी सुझाव या सवाल CDPO पर है, तो कमेंट में हमे जरूर बताएं।

This Post Has One Comment

  1. Lilian

    Hi there Dear, are you genuinely visiting this site on a regular
    basis, if so afterward you will definitely obtain good experience.

Leave a Reply